साइबर सुरक्षा बन रहा हाई डिमांडिंग करियर ऑप्‍शन, मिल रहा लाखो का पैकेज

(Cybercrime Job Opportunities), नयी दिल्ली। टेक्नोलॉजी के दौर में हम पूरी तरह से इंटरनेट और कंप्यूटर पर निर्भर हो गए हैं। तो वहीं डिजिटलाइजेशन बढ़ने के साथ-साथ साइबर क्राइम का खतरा भी बढ़ रहा हैं। आज के समय में ज्‍यादातर ठगी व फ्रॉड के केस ऑनलाइन ही हो रहे हैं। ऐसे में तरह-तरह के ऑनलाइन क्राइम ने साइबर सिक्योरिटी की चिंता बढ़ा दी। जिस वजह से इस फील्ड में साइबर सिक्योरिटी और साइबर लॉ जानने वाले पेशेवरों की मांग बढ़ गई है।

क्या होता है साइबर क्राइम?

साइबर क्राइम उसे कहा जाता है, जब इंटरनेट का गलत तरीके से इस्तेमाल करके किसी भी तरह के अपराध से लोगों को नुकसान पहुंचाया जाए। इसके लिए दुनिया के हर देश में साइबर सुरक्षा का अलग कानून बनाया गया है।

आपको बता दें की साइबर कानून के अंतर्गत ब्लैकमेलिंग, स्टॉकिंग, कॉपीराइट, क्रेडिट कार्ड चोरी, फ्रॉड, पोर्नोग्राफी आदि आते है। इसके अलावा इंटरनेट के माध्यम से किए जाने वाले सभी अपराधों को साइबर क्राइम की संज्ञा दी गई है।
इसकी रोकथाम के लिए ही साइबर सिक्योरिटी और साइबर लॉ की समझ रखने वाले प्रोफेशनल्स की मांग बढ़ रही है।

जरूरी कोर्स व योग्‍यता

साइबर क्राइम के क्षेत्र में अगर आप भी अपना करियर बनाना चाहते हैं तो 12वीं पास करने के बाद आप इससे संबंधित कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। जिन लोगों ने पहले से ही कानून की डिग्री ले रखी है उन लोगों के लिए एक यह एक बेहतरीन फील्ड साबित हो सकती है। साइबर से संबंधित कोर्स करने के लिए आपका किसी भी स्ट्रीम में 12वीं या ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है।

करियर ऑप्शन

इस फील्ड में आप
– लॉ-फर्म्स,
– मल्टीनेशनल कंपनियां,
– गवर्नमेंट डिपार्टमेंट आदि में जा सकते हैं, जहां पर आप लाखों का पैकेज ले सकते हैं।

कोर्स के लिए प्रमुख संस्‍थान

– साइबर लॉ कॉलेज, नावी
– अमेटी लॉ स्कूल, नोएडा
– डिपार्टमेंट ऑफ लॉ, दिल्ली यूनिवर्सिटी
– सिम्बायोसिस सोसायटी लॉ कॉलेज, पुणे
– आसियान स्कूल ऑफ साइबर लॉ, पुणे
– सेंटर ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन, हैदराबाद
– इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद

सैलरी का अनुमान

शुरूआती तौर पर आप 30 से 50 हजार रूपये प्रतिमाह आसानी से कमा सकते है। वहीं अनुभव बढ़ने पर आप लाखों का पैकेज पा सकते हैं।

Read The Original Article

Leave a Reply